देश में पहली बार हुई आॅनलाइन एलुमनाई मीट “ यादें ”

Aligarh: कोरोना माहमारी में जब कोई स्कूल-काॅलेज नहीं खुल रहा, वहीं इंस्टीट्यूट आॅफ इन्फोरमेशन मैनेजमेंट एंड टैक्नोलाॅजी, अलीगढ़ ने देश में पहली बार “ यादें ” कार्यक्रम के अंतर्गत पुरानी काॅलेज की यादों को अलग अंदाज में संजोने की पहल की। आईआईएमटी के मैनेजमेंट संकाय ने बीबीए 2005 से 2009 बैच के एलुमनाई के लिए जूम एप के माध्यम से आॅनलाइन एलुमनाई मीट का आयोजन किया, जिसमें शांतिनिकेतन वल्र्ड स्कूल की निदेशिका शालिनी महलवार ने घर से ही दीप प्रज्जवलन कर एलुमनाई मीट का शुभारम्भ किया, जिसकी अध्यक्षता आईआईएमटी सचिव पंकज महलवार व शांतिनिकेतन वल्र्ड स्कूल की निदेशिका शालिनी महलवार ने, आईआईएमटी प्राचार्य शंभू केएन सिंह रावत ने निर्देशन व विभागाध्यक्षा डाॅ इंदू सिंह ने संचालन किया। मीट में दुबई सहित देश-विदेश से आईआईएमटी के एलुमनाई पूर्व छात्र-छात्राओं ने आॅनलाइन जूम एप से सहभागिता की। दुबई से एलुमनाई शबीब, श्रवण कुमार, संजय, रवि, जितेंद्र, सोनाली, नेहा, प्रशांत, धीरज, शिवानी, जुनेद, हिना, आकांक्षा, प्रतीक्षा, मनीष, नसीम, जुलाल, स्वेता, ईशा, राहुल, पूजा आदि ने काॅलेज में प्रवेश से लेकर उतीर्ण करने के साथ-साथ अपनी संघर्षगाथा इस तरह से बयां की, कि पुरानी यादों के प्यार से आंखें भर आईं। दो कोरोना योद्वा सब इंस्पेक्टर लोकेश, ज्योति आईआईएमटी एलुमनाई ने भी अपनी यादों को शब्द प्रदान किए। सभी ने काॅलेज लाइफ को जीवन का कभी न भूलाया जाने वाला पल बताया। एलुमनाई कामरान की स्पेशल परफोरमेंस ने सभी का दिल जीत लिया। एलुमनाई के आग्रह पर प्राचार्य शंभू केएन सिंह रावत की सीगिंग परफोरमेंस ने समां ही बांध दिया। मीट की अध्यक्षता करते हुए आईआईएमटी सचिव पंकज महलवार ने कहा कि आॅनलाइन सम्प्रेषण का वह कारगर माध्यम है, जिससे हम कहीं भी रहकर किसी से भी कनेक्ट हो सकते हैं। प्राचार्य शंभू केएन सिंह रावत ने एलुमनाई मीट के सहभागी पुरातन छात्र-छात्राओं को अपने-अपने क्षेत्र में अग्रसर होने के लिए टिप्स दिए। अंत में डाॅ सौरभ कुमार सिंह ने आॅनलाइन मीट में शामिल एलुमनाई, शिक्षकों का धन्यवाद ज्ञापित किया। इस दौरान डाॅ निशांत रस्तोगी, नदीम शरीफ, चमन शर्मा आदि भी मीट में उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *