जून से खुलेंगे मथुरा-वृन्दावन के मंदिर,श्रद्धालुओं को करना होगा नियमों का पालन

मथुरा/वृंदावन: ढाई माह लंबे लॉकडाउन के बाद मथुरा व वृन्दावन के मंदिर अब आठ जून से भक्तजनों के दर्शनार्थ खोले जाएंगे। सरकार द्वारा लॉकडाउन की प्रक्रिया में आमूल-चूल परिवर्तन किए जाने और नए दिशा निर्देशों के अनुसार आठ जून से मंदिर-देवालयों को नियमों का अनुपालन करते हुए खोला जाना संभव हो सकेगा।

ब्रज के प्रसिद्ध द्वारिकाधीश मंदिर के विधि एवं मीडिया प्रभारी राकेश तिवारी एडवोकेट ने बताया, ”केंद्र सरकार की गाइडलाइन के अनुसार मंदिर के पट 8 जून से खुलेंगे। कपाट खुलने के बाद भक्तों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना और मास्क लगाना अनिवार्य होगा।

केशवपुरा स्थित प्राचीन ठाकुर केशवदेव मंदिर प्रबंध कमेटी अध्यक्ष पं. सोहन लाल शर्मा ने बताया, ”सरकार के नए निर्णय के अनुसार मंदिर 8 जून से खोला जाएगा। इससे पूर्व मंदिर को सैनिटाइज किया जाएगा। ठाकुर जी का फूलों का बंगला सजाया जाएगा। भक्तजन भी निर्धारित नियमों को पूरा करने पर इसके दर्शन कर सकेंगे। भक्तों को सभी आवश्यक नियमों का पालन करना होगा।

दूसरी ओर, विकास कार्यो की समीक्षा करने मथुरा पहुंचे ऊर्जामंत्री एवं स्थानीय विधायक श्रीकांत शर्मा ने वृन्दावन में ठा. बांके बिहारी मंदिर के नजदीक कुंज गलियों में चल रहे विकास कार्यों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान अधूरे कार्यों को लेकर उन्होंने नाराजगी जताई और शेष कार्य मंदिरों के खुलने से पहले पूरा कर लेने के आदेश दिए।

उन्होंने कहा, ”श्रद्धालुओं को कोई परेशानी न हो, इसलिए कुंज गलियों में चल रहे विकास कार्य जल्द पूरे किए जाएं। उन्होंने बताया, ”वृन्दावन की कुंज गलियों में 12 करोड़ रुपए की लागत से अण्डर ग्राउण्ड केबलिंग का कार्य चल रहा है। इन गलियों में सौंदर्यीकरण एवं पुनरुद्धार की मद में 38 करोड़ रुपए की लागत से विभिन्न कार्य कराए जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *