अलीगढ़: कैशियर ही निकला LIC कैश वैन से 22 लाख लूटने का मास्टरमाइंड

अलीगढ़: समद रोड पर सोमवार दोपहर एलआईसी बिल्डिंग के बाहर हुई 22.48 लाख की लूट की घटना का पुलिस ने गुरुवार तड़के खुलासा कर दिया। आज सुबह मुठभेड़ में दो बदमाश गोली लगने से जख्मी हुए हैं, जबकि उनके दो साथी भागने में सफल रहे। वहीं तीन अन्य बदमाश रात भर चले दबिश अभियान में गिरफ्तार हुए हैं।

वहीं इस लूट के खुलासे पर शासन से जांच टीम को 50 हजार का इनाम देने की घोषणा की है। पुलिस टीम को यह इनाम दिया जाएगा। गिरफ्तार पांचों बदमाशों के पास से लूटी गई रकम में से 12.41 लाख रुपये बरामद हुए हैं।
बताया गया कि बाकी रकम फरार दो बदमाशों के पास है, जिनकी तलाश में टीमें लगातार दबिश दे रहीं हैं। इस मामले में दोपहर में एसएसपी स्तर से प्रेस कांफ्रेंस कर विस्तृत जानकारी दी जाएगी।
कैश मैनेजमेंट सर्विस स्टाफ सोमवार दोपहर 11:30 बजे जब एलआईसी से करेंसी लेने गया था, तभी यह लूट हुई थी। घटना के दौरान अकराबाद निवासी कैशियर रजत शर्मा जब एलआईसी दफ्तर से पैसों का बैग लेकर निकला, तभी बाइक सवार दो बदमाश उस
बैग को लूटकर भाग गए थे।

इस लूट के दौरान गार्ड की फायरिंग में पांच राहगीर छर्रे लगने से जख्मी हुए थे। घटना के बाद मौके पर पहुंचे डीआईजी डॉ.प्रीतिंदर सिंह व एसएसपी मुनिराज जी ने जांच के लिए आठ टीमें लगाई थीं। इन पुलिस टीमों ने लगातार भागदौड़ कर व सर्विलांस से साक्ष्य जुटाकर पाया कि लूट का शिकार हुआ कैशियर रजत शर्मा ही इसका मास्टर माइंड है।

इसपर बुधवार देर शाम जब वह घटना के संबंध में सिविल लाइंस आया तभी उससे पुलिसिया हथकंडे से पूछताछ हुई और उसके सामने साक्ष्य पेश किए गए तो वह टूट गया और गलती स्वीकार कर ली। उसने अपने साथियों के नाम बताए, जिनमें से दो अभिषेक और रोहित को रात में ही दबिश देकर गिरफ्तार किया और उनसे लूट की रकम का हिस्सा भी बरामद किया गया।

इसके बाद पुलिस टीमें अन्य बदमाशों की तलाश में रात में दबिश दे रही थीं और सर्विलांस टीमें भी उनकी लोकेशन ट्रेस कर रही थीं। इसी बीच तड़के चार बजे घटना में शामिल चार अन्य बदमाशों की लोकेशन बारौला बाईपास की ओर आते हुए ट्रैस हुई।

इस पर इंस्पेक्टर सिविल लाइंस प्रमेंद्र सिंह, इंस्पेक्टर क्वार्सी छोटेलाल, एसओ जवां अभय शर्मा, एसओजी/सर्विलांस प्रभारी संजीव कुमार व उनकी टीमों ने घेराबंदी की तो दो बाइकों पर चार बदमाश बाईपास से उतरकर भमोला शमशान के पास घेर लिए गए।

यहां हुई मुठभेड़ में अमित वर्मा व गोलू उर्फ शिवशंकर बंजारा को गोलियां लग गईं और वे मौके पर ही गिर गए, जबकि उनके दो साथी सुरजीत व कालू मौके से फरार हो गए।

मौके पर ही उनके पास से लूटे गए पैसे, लूट में प्रयुक्त बाइक सहित दो और स्प्लेंडर बाइक, दो तमंचे, कारतूस, दो मोबाइल आदि बरामद किए गए। उन्होंने स्वीकार किया कि वे रकम लेकर भाग रहे थे। मौके से भाग गए साथियों के पास दूसरे बैग में शेष रकम थी।

मौके पर पहुंचे सीओ तृतीय अनिल समानिया ने बताया कि मुठभेड़ में दो बदमाशों के जख्मी होने के साथ-साथ कुल 12.41 लाख रुपये बरामद कर पांच गिरफ्तारी हुई हैं और लूट का खुलासा हुआ है। बाकी गिरफ्तारी व रकम बरामदगी के प्रयास जारी हैं। यह भी पता चला है कि जिस बाइक से लूट को अंजाम दिया था वह घटना से तीन चार दिन पहले हरदुआगंज क्षेत्र में लूटी गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *